Homeबिहारसीएम योगी ने बिहार से पाक पीएम पर निशाना साधा।

सीएम योगी ने बिहार से पाक पीएम पर निशाना साधा।

- Advertisement -

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर सियासी घमाशान और रैलियों का दौर काफी तेज हो गया है। होने वाले पहले चरण के मतदान से पहले सभी दल अपने-अपने प्रत्याशियों के लिए क्षेत्रों में जाकर जमकर चुनाव प्रचार कर रहे हैं। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी ने बिहार में कई चुनावी रैली को संबोधित किया।

- Advertisement -

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत का हितैषी हर व्यक्ति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खड़ा है। साथ ही उन्होंने दावा किया कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाये जाने से सबसे अधिक पीड़ा राहुल गांधी और असदुद्दीन औवैसी को हुई है। जमुई में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत का हितैषी प्रत्येक व्यक्ति मोदीजी के साथ खड़ा है और उनके साथ कदम मिलाकर काम करना चाहता है।

- Advertisement -

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इसके नेता पाकिस्तान की तारीफ करने में लगे हैं । ऐसे नेताओं से क्या देश के हित की कल्पना की जा सकती है ? उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोगों को कश्मीर से धारा 370 हटाने पर बहुत पीड़ा हुई। उन्होंने कहा कि इनमें सबसे अधिक पीड़ा कांग्रेस नेता राहुल गांधी और एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी को हुई।

- Advertisement -

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सीएम योगी ने इससे पहले मंगलवार को अरवल जिले में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश को जाति और भाषा के आधार पर बांटना चाहती है। उन्होंने कहा कि देश में नक्सलवाद और अलगाववाद की समस्याएं कांग्रेस की देन हैं। उन्होंने जनता से पूछा कि कांग्रेस के एक नेता पाकिस्तान की तारीफ करते हैं, क्या ऐसा होना चाहिए? बता दें कि हाल ही में लाहौर थिंक फेस्ट नाम के कार्यक्रम में शशि थरूर ने कहा था कि भारत में मुसलमानों से भेदभाव होता है और पाकिस्तान के हालात भारत से बेहतर हैं।

अपनी चुनावी रैली के दौरान सीएम योगी ने आरजेडी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आरजेडी की सरकार में लोगों को राशन भी नहीं और साथ में पशुओं का चारा भी नहीं छोड़ा गया। उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार से पहले बिहार में नौजवानों के सामने पहचान तक का संकट था। उन्होंने कहा कि एक परिवार जातीय संघर्ष करा कर पूरी व्‍यवस्‍था पर हावी होने की कोशिश कर रहा था। नक्‍सलवाद अपने चरम पर था पर अब राज्य में अराजकता के लिए कोई जगह ही नहीं है।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

- Advertisment -

शिक्षा एवं रोजगार

- Advertisment -