Homeबेगूसरायमाँ ने बेटी को जन्म देकर सड़क किनारे फेंका, दूसरी महिला ने...

माँ ने बेटी को जन्म देकर सड़क किनारे फेंका, दूसरी महिला ने लिया गोद

- Advertisement -

माँ का प्यार एक ऐसी भावना है जिसे समझने के लिए असीमित शब्दों की आवश्यकता होती है क्योंकि यह एक महासागर जितना गहरा है। इस दुनिया में आने के बाद बच्चे अपने आप को माँ की गोद में सबसे सुरक्षित पाते हैं। बिना बोले भी माँ समझ जाती है कि हम क्या चाहते हैं। लेकिन इस भावना के विपरीत एक खबर सामने आयी है। यह खबर है बिहार के बेगूसराय जिले के भगवानपुर से। सरकार एक तरफ बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ का नारा देकर बेटी के प्रति लोगों को जागरूक कर रही है, वहीं दूसरी तरफ एक माँ अपने पेट में 9 महीने तक पालन पोषण कर बेटी पैदा होने के बाद जीवित अवस्था में अपनी बेटी को फेंक कर फरार हो गई।baby-girl..

- Advertisement -

मामला बिहार के बेगूसराय जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत नरहरिपुर पंचायत के ताजपुर चिमनी की है। सड़क किनारे आम के बगीचे से एक नवजात बच्ची की रोने की आवाज सुनकर आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गयी। इसी दौरान ताजपुर निवासी रंजन साह की पत्नी काजल देवी ने उस बच्ची की चीख सुनकर फेंके हुए बच्ची को उठाकर अपने सीने से लगा लिया। भगवानपुर पी.एच.सी को सूचना देकर एंबुलेंस बुलाया गया। एंबुलेंस से बच्चे को भगवानपुर पी.एच.सी लाया गया जहां डॉक्टरों के देखरेख में उस बच्ची की वजन से लेकर सभी तरह की स्वास्थ्य की जांच की गयी। सबकुछ सामान्य होने के बाद ताजपुर निवासी काजल देवी उस बच्ची को गोद लेने के लिए अपनी इच्छा जताई है। बेगूसराय (बिहार) से मो. मुमताज़ की रिपोर्ट।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

- Advertisment -

शिक्षा एवं रोजगार

- Advertisment -