Homeपटनाबिहार : अपने ही बेटे की हत्या का गुनहगार निकला पिता, 85...

बिहार : अपने ही बेटे की हत्या का गुनहगार निकला पिता, 85 हजार की सुपारी देकर कराई थी हत्या

- Advertisement -

Patna (Bihar): 85 हजार रुपये की सुपारी देकर शूटरों से अपने बेटे की हत्या करवाने का मामला प्रकाश में आया है. एक पिता ने परेशान होकर अपने ही बेटे की सुपारी देकर हत्या करवा दी. घटना पटना के गौरीचक थाना क्षेत्र की है. पटना के गौरीचक यह मामला 26 जुलाई का है. लखीमपुर कोली सड़क के पास गोली मारकर की गई 17 वर्षीय अंकित कुमार की हत्या की गुत्थी तब सुलझी जब पुलिस ने शूटर समेत तीन आरोपियों को अपने कब्जे में लिया. मृतक के पिता विनय कुमार भी गिरफ्तार आरोपितों में शामिल निकले हैं. पुलिस ने जांच के बाद गोपालपुर थाना क्षेत्र के अब्दुल्लाचक निवासी नीतीश पासवान को शक के आधार पर हिरासत में लिया. जब पुलिस ने पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया. नीतीश ने बताया कि अंकित के पिता विनय सिंह के कहने पर ही उसकी हत्या की गई. इसके लिए उन्हें 85 हजार रुपए मिले थे. गिरफ्तार शूटरों में गोपालपुर के अब्दुल्लाहचक का नीतीश पासवान तथा राहुल कुमार शामिल है. पुलिस ने शूटरों से एक देशी कट्टा और एक जिंदा कारतूस के साथ चार मोबाइल और तीन मोटरसाइकिल बरामद किये हैं. साथ ही सुपारी के पैसे से खरीदा गया एक नई मोटरसाइकिल भी बरामद किया गया है.father-son-murder

- Advertisement -

हत्या का कारण:
मिली जानकारी के अनुसार बेटे के अड़ियल और बदतमीज होने के चलते कलयुगी पिता ने सुपारी देकर बेटे की हत्या करवाई. पिता ने बताया है कि उसके बेटे की दिमागी हालत सरफिरे की तरह थी जिसके चलते पूरा घर परेशान था. उसकी हरकतों से पूरा परिवार परेशान हो चुका था इसीलिए उसकी हरकतों से परेशान होकर बेटे की शूटरों को सुपारी देकर हत्या करवानी पड़ी. 26 जुलाई को हुए इस घटना में मृत का शव गौरीचक कोली के निकट पुनपुन बांध के पास प्राप्त हुआ था. उस युवक की पहचान सैदनपुर का रहने वाला अंकित के तौर पर हुई थी. पुलिस ने पिता को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की लेकिन पिता इस बात को लेकर साफ़ इंकार कर रहा था जिससे पुलिस का शक और गहरा हो गया. पुलिस के अनुसार CCTV फुटेज में देखा गया कि हत्या का मास्टरमाइंड उसका पिता ही था.

- Advertisement -

पिता की चालाकी:
जब इस घटना को अंजाम दिया गया था उसके बाद चालक पिता थाने पहुंच कर हल्ला हंगामा करने लगा और हत्या के विरोध में अपने समर्थकों के साथ पटना-गया की मुख्य सड़क मार्ग को दो घंटे जाम कर दिया था. इस पूरी घटना में थानाध्यक्ष लालमुनि दुबे ने बताया कि अंकित की हत्या करने में उसके पिता ही मास्टरमाइंड है जिसकी सीसीटीवी फुटेज कैमरे में कैद है. तीनों आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर गुरुवार को जेल भेज दिया है.

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

- Advertisment -

शिक्षा एवं रोजगार

- Advertisment -